मध्‍य रेल, मुख्‍यालय राजभाषा विभाग, मुंबई छत्रपति शिवाजी महाराज टर्मिनस में क्षेत्रीय राजभाषा कार्यान्‍वयन समिति की बैठक संपन्‍न

0

मध्‍य रेल, मुख्‍यालय राजभाषा विभाग, मुंबई छत्रपति शिवाजी महाराज टर्मिनस में क्षेत्रीय राजभाषा कार्यान्‍वयन समिति की बैठक संपन्‍न

मध्‍य रेल, मुख्‍यालय राजभाषा विभाग, मुंबई छत्रपति शिवाजी महाराज टर्मिनस में दिनांक 07.05.2019 को में महाप्रबंधक श्री देवेन्‍द्र कुमार शर्मा की अध्‍यक्षता में क्षेत्रीय राजभाषा कार्यान्‍वयन समिति की 165वीं बैठक का आयोजन किया गया । इस बैठक में सभी विभागों के प्रमुख विभागाध्‍यक्षों, मंडलों के अपर मंडल रेल प्रबंधकों तथा कारखानों के मुख्‍य कारखाना प्रबंधकों के साथ-साथ गृह मंत्रालय, राजभाषा विभाग, हिंदी शिक्षण योजना, बेलापुर की ओर से विशेष रूप से आमंत्रित उप निदेशक (प्रशिक्षण) डॉ. विश्‍वनाथ झा उपस्थित थे।

मध्‍य रेल के महाप्रबंधक श्री देवेन्‍द्र कुमार शर्मा ने बैठक को संबोधित करते हुए कहा कि अन्‍य विभागों की अपेक्षा रेल विभाग में भाषा का एक अनन्‍यसाधारण महत्‍व है क्‍योंकि रेलें लोगों को आपस में जोड़ने का काम करती है और यह हिंदी के कारण ही संभव हो पाता है क्‍योंकि हिंदी ही ऐसी एकमात्र भाषा है जो देश के अधिकतर भू-भाग में बोली तथा समझी जाती है । उन्‍होंने सभी अधिकारियों से अपने-अपने कार्यालयों में ऐसी संभावित मदों एवं अभिनव कार्यों का पता लगाने की अपील की जिनमें सौ प्रतिशत कार्य हिंदी में किया जा सकता है। हिंदी के प्रचार-प्रसार हेतु प्रकाशित की जाने वाली गृह पत्रिकाओं की सराहना करते हुए उन्‍होंने सभी अधिकारियों से इन पत्रिकाओं के लिए कुछ-न-कुछ लिखने की अपील की । रेल मंत्रालय द्वारा जारी किए गए एप्‍प ‘रेल राजभाषा’ का उल्‍लेख करते हुए उन्‍होंने सभी अधिकारियों से इस ज्ञानवर्धक एवं उपयोगी एप्‍प को एंड्राइड फोन पर अपलोड कर लेने तथा इसका व्‍यापक प्रचार-प्रसार करने का आग्रह किया।

बैठक को संबोधित करते हुए प्रधान मुख्य बिजली इंजीनियर एवं मुख्‍य राजभाषा अधिकारी श्री एस.पी. वावरे ने सभी सदस्‍यों से फाइलों पर अधिक से अधिक टिप्‍पणियां हिंदी में देने, धारा 3(3) के अनुपालन पर विशेष ध्‍यान देने, वेबसाइट पर कार्यालय से संबंधित सभी जानकारियां अनिवार्य रूप से हिंदी में प्रदर्शित करने तथा विभागीय निरीक्षणों के दौरान जनसंपर्क से जुड़ी मदों में हिंदी के प्रयोग का ज़ायजा लेने का आग्रह किया । उन्‍होंने सभी सदस्‍यों से दौरा कार्यक्रम, छुट्टी के आवेदन, यात्रा भत्ता बिल जैसी बुनियादी मदों में हिंदी का शत-प्रतिशत प्रयोग करने की अपील की । इसके पश्‍चात समिति को संबोधित करते हुए महाप्रबंधक इसके पश्चात उप महाप्रबंधक (राजभाषा) एवं सदस्‍य सचिव श्री विपिन पवार ने पावर प्‍वाइंट के माध्‍यम से प्रस्‍तुत सचिव की रिपोर्ट की विभिन्‍न मदों पर सभी सदस्‍यों के साथ विस्‍तार से चर्चा की । गृह मंत्रालय, हिंदी शिक्षण योजना के उप निदेशक (प्रशिक्षण) डॉ. विश्‍वनाथ झा ने मध्‍य रेल पर हिंदी का प्रयोग-प्रसार बढ़ाने तथा निर्धारित लक्ष्यों को प्राप्‍त करने हेतु अधिकारियों एवं कर्मचारियों द्वारा किए जा रहे प्रयासों की सराहना की। उन्‍होंने सभी अधिकारियों से प्रशिक्षित आशुलिपिकों एवं टंककों की सेवाओं का पूरा-पूरा उपयोग करने तथा सभी निरीक्षणों में हिंदी के प्रयोग का ज़ायजा लेने की अपील की । बैठक की कार्यवाही के अगले चरण में मध्‍य रेल पर महाप्रबंधक श्री देवेन्‍द्र कुमार शर्मा के कार्यकाल के दौरान हासिल की गई उपलब्धियों का एक लघु प्रस्‍तुतीकरण दिया गया । इसके पश्चात सामान्‍य प्रशासन विभाग तथा भुसावल मंडल द्वारा तकनीकी विषयों पर हिंदी में प्रस्तुतीकरण दिया गया । बैठक के अंत में वरिष्‍ठ राजभाषा अधिकारी (मुख्यालय) श्री राम प्रसाद शुक्ल द्वारा सभी सदस्‍यों के प्रति आभार व्‍यक्‍त किया गया ।

IANS.

Share.

About Author

Maintain by Designwell Infotech