बैंक ऑफ महाराष्ट्र द्वारा डोरस्टेप बैंकिंग सेवाएं

0

 

 

पुणे : बैंक ऑफ महाराष्ट्र देश का सार्वजनिक क्षेत्र का अग्रणी बैंक है। बैंक ने देश भर में अपनी 555 शाखाओं के माध्यम से 100 केन्द्रों पर डोरस्टेप बैंकिंग सेवाओं (डीएसबी) का आरंभ किया है।

 

वर्तमान में, बैंक ने डीएसबी के माध्यम से गैर-वित्तीय बैंकिंग सेवाएं शुरू की हैं, जिनमें नेगोशिएबल इन्स्ट्रूमेंट (चेक/ ड्राफ्ट/ पे ऑर्डर इत्यादि), 15G/ 15H फॉर्म, नई चेक बुक अनुरोध पर्ची, स्थायी अनुदेश एप्लिकेशन फॉर्म, खाता विवरण, टीडीएस/ फॉर्म 16 प्रमाणपत्र जारी करने का आवेदन आदि पिक-अप करना शामिल हैं। इन सेवाओं में खाता विवरण, टीडीएस/ फॉर्म 16 प्रमाणपत्र, गैर-वैयक्तिक चेकबुक, सावधि जमा रसीद आदि की सुपुर्दगी भी शामिल होगी।

 

बैंक ऑफ महाराष्ट्र के कार्यपालक निदेशक श्री हेमन्त टम्टा ने कहा कि डीएसबी से ग्राहकों को अपने डोरस्टेप पर गैर-वित्तीय सेवाओं का लाभ प्राप्त करने का एक विशिष्ट अवसर प्राप्त होगा। विशेष रूप से, वरिष्ठ नागरिकों और दिव्यांगजनों को डोरस्टेप बैंकिंग सेवाओं का उपयोग करते हुए कोविड-19 महामारी के चलते शाखाओं में जाने से बचना चाहिए।

 

EASE 2.0 सुधारों के भाग के रूप में, कॉल सेंटर, वेब पोर्टल या मोबाइल ऐप के यूनिवर्सल टच प्वाइंट के माध्यम से ग्राहक को अपने डोरस्टेप पर बैंकिंग सेवाएं प्रदान करने के लिए डीएसबी लाया गया है। ग्राहक इन चैनलों के माध्यम से सेवा अनुरोध को भी ट्रैक कर सकते हैं। डोरस्टेप बैंकिंग सेवा सुविधाएं प्रदान करने वाली बैंक ऑफ महाराष्ट्र की शाखाओं की सूची बैंक की वेबसाइट www.bankofmaharashtra.in पर उपलब्ध है।

 

Share.

About Author

Maintain by Designwell Infotech