Rahul warns NDA government again…

  Bengaluru: Congress Vi…

Cloudy Saturday morning in Delhi

  New Delhi: It was a cl…

Actively working towards clean p…

  New Delhi:  Finance Mi…

President-elect Ram Nath Kovind …

  New Delhi: Sanjay Koth…

1,180 pilgrims leave for Amarnat…

  Jammu: A fresh batch o…

Ananth Kumar blames Mamata for D…

New Delhi: Parliamentary …

Goa proved lucky for Kovind: Par…

  Panaji: The Goa Assemb…

JioPhone to bring new era of inn…

  New Delhi: With Mukesh…

Reliance Jio launches JioPhone f…

  Mumbai: Industrialist …

Madhya Pradesh legislators queue…

Bhopal: Legislators queue…

«
»
TwitterFacebookPinterestGoogle+

योगी सरकार का १०० दिन का रिपोर्ट कार्ड

Facebooktwittergoogle_plusredditpinterestlinkedinmail

लखनउ : उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आज अपनी सरकार के 100 दिन के कार्यकाल का रिपोर्ट कार्ड पेश किया और कहा कि एकात्म मानव समाज के प्रणेता दीनदयाल उपाध्याय के अन्त्योदय के सपने को साकार करने की दिशा में इन 100 दिनों की कार्यावधि एक प्रभावी पहल है और इसके सकारात्मक परिणाम दिखायी देने लगे हैं.

yogi

मुख्यमंत्री ने कहा कि जनता ने केन्द्र की उपलब्धियों और पार्टी की नीतियों पर भरोसा करते हुए बीजेपी को पिछले विधानसभा चुनाव में ऐतिहासिक बहुमत दिया. परिवर्तन, विकास और गरीबों के सशक्तीकरण के लिये 19 मार्च को शपथग्रहण करने वाली इस सरकार का मात्र 100 दिन छोटा सा कार्यकाल हुआ है. उसके सामने जो चुनौती थी, उसे हमने स्वीकार किया है. इन 100 दिनों की उपलब्धियों पर हमें संतोष का अनुभव हो रहा है. इन दिनों के कामकाज के सकारात्मक परिणाम दिखायी देने लगे हैं.

उन्होंने कहा कि एकात्म मानव समाज के प्रणेता दीनदयाल उपाध्याय के अन्त्योदय के सपने को साकार करने की दिशा में उनकी सरकार के 100 दिनों का कार्यकाल प्रभावी पहल है. वह प्रदेशवासियों को आश्वस्त करना चाहते हैं कि राज्य सरकार प्रदेश को विकास और खुशहाली के रास्ते पर तेजी से ले जाने के प्रभावी प्रयास शुरू कर चुकी है. अपने लक्ष्य को हासिल करने के लिये सरकार ने बीजेपी के लोककल्याण संकल्प पत्र के वादों को पूरा करने की दिशा में अहम निर्णय लिये हैं.

योगी ने प्रदेश के पिछड़ेपन का ठीकरा पूर्ववर्ती सपा और बसपा की सरकारों के सिर फोड़ते हुए कहा कि सभी जानते हैं कि विगत 14-15 सालों के दौरान उत्तर प्रदेश काफी पिछड़ गया था. अन्य दलों की सरकारों के कार्यकाल में भ्रष्टाचार और परिवारवाद के साथ बदहाल कानून-वयवस्था ने जनता का भारी नुकसान किया. हमने जनता के कल्याण के लिये अविलम्ब प्रभावी कार्वाई शुरू की है.

मुख्यमंत्री ने कहा कि उनकी सरकार केन्द्र की नरेन्द्र मोदी सरकार के सबका साथ, सबका विकास के संकल्प का अनुसरण कर रही है. इसके लिये शासन-प्रशासन की जवाबदेही सुनिश्चित की गयी है. आवास, सड़क, पेयजल तथा शौचालय जैसी मूलभूत सेवाओं की उपलब्धता के साथ-साथ कानून-व्यवस्था के लिये सरकार सजग है.

मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य सरकार ने 2017 को गरीब कल्याण वर्ष के रूप में मनाने का फैसला किया है. हर साल 24 जनवरी को उत्तर प्रदेश दिवस के रूप में मनाने का निर्णय भी लिया है. योगी ने कहा कि वर्तमान प्रदेश सरकार सुशासन के जरिये विकास के पथ पर प्रदेश को अग्रसर करने पर गम्भीरता से काम रही है. प्रदेश की अर्थव्यवस्था मूलत: खेती पर आधारित है. किसान की खुशहाली के बिना प्रगति की बात बेमानी है. उनकी सरकार ने किसानों को खाद, बीज के साथ अन्य चीजों की उपलब्धता सुनिश्चित करायी है. सरकार ने पांच हजार से अधिक गेहूं क्रय केन्द्र बनाये और पिछले साल के मुकाबले चार गुना गेहूं की खरीद की है. अब तक गन्ना किसानों का 22517 करोड़ रपये का बकाया भुगतान कराया जा चुका है.

उन्होंने कहा कि उनकी सरकार ने प्रदेश के 86 लाख लघु एवं सीमान्त किसानों का एक लाख रपये तक का कर्ज माफ करने का निर्णय किया है. इसके लिये 36 हजार करोड़ रपये का प्रावधान किया गया है.

योगी ने कहा कि राज्य की खनन प्रक्रिया पक्षपातपूर्ण चली आ रही थी. हमने नयी खनन नीति लागू की है. सरकार ने एक लाख 21 हजार किलोमीटर सड़कों को गड्ढामुक्त किया है. सभी जिला मुख्यालयों को 24 घंटे, तहसील मुख्यालयों तथा, बुंदेलखण्ड को 20 घंटे एवं ग्रामीण क्षेत्रों को 18 घंटे बिजली दी जा रही है. सरकार ने केन्द्र के साथ पावर फार आल अनुबंध पर हस्ताक्षर किये हैं. प्रदेश के सभी धार्मिक स्थलों पर भी विद्युत की निर्बाध आपूर्त सुनिश्चित की है. साथ ही बीपीएल परिवारों को नि:शुल्क बिजली कनेक्शन देने का फैसला किया गया है.

योगी ने कहा कि उनकी सरकार ने उत्तर प्रदेश और राजस्थान के बीच अन्तरराज्यीय परिवहन समझौते पर हस्ताक्षर किये हैं. इससे सड़क परिवहन सुगम होगा. कैलाश मानसरोवार की अनुदान राशि 50 हजार से बढ़ाकर एक लाख रपये की गयी. मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश को माफिया, गुंडा तथा भ्रष्टाचार मुक्त बनाने की दिशा में काम शुरू किया गया है. एंटी भूमाफिया टास्क फोर्स गठित की गयी है, जिसके जरिये 5891 हेक्टेयर अतिक्रमित भूमि मुक्त करायी गई है. उन्होंने कहा कि उनकी सरकार महिलाओं के सशक्तीकरण और उन्हें समान अवसर देने के प्रयास कर रही है. कोई कसर बाकी नहीं रखी गयी है. सरकार ने एंटी रोमियो स्कवाड का गठन किया, जिससे महिलाएं पहले से सुरक्षित महसूस कर रही हैं. कन्या भूण हत्या रोकने के लिये योजना शुरू की गई है. जेवर में अन्तरराष्ट्रीय हवाईअड्डे की सैद्धांतिक सहमति दे दी गयी है.

योगी ने कहा कि उनकी सरकार स्वच्छ भारत अभियान में सहभागिता सुनिश्चित कर रही है. अक्तूबर 2018 तक प्रदेश को खुले में शौच से मुक्त कराने का लक्ष्य है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

CAPTCHA Image

*